दार्जिलिंग और सिक्किम यात्रा – भाग 1

भागलपुर से दार्जिलिंग यात्रा  गर्मियोंकेछुट्टीयोंमेंघूमनेजानेकाकार्यक्रमबनरहाथा | कहाँजाएकहाँनहींघरमेंबसयहीचर्चाचलरहीथी| वैसेअभीलंबासमयथा, परहमारेभागलपुरकीबातहीनिरालीहै| कहींभीजानाहोअगरतीन–चारमाहपूर्वमेंट्रेनोंमेंआरक्षणनहींलियातोबसफिरभूलजायेकिआपकोपटनातकभीजानेकेलियेकिसीट्रेनमेंआरक्षणमिलेगी| प्रत्येकट्रेनमेंआनेऔरजानेवालोंकातांतालगारहताहै| खैर, हमारेख्वाबोँकोतीनमहीनेपहलेहीपंखलगनाशुरूहोगये| हमारीश्रीमतीजीभीकाफीउत्साहितऔरखुशनजरआरहींथी| वैसेआपकोबताताचलूँ, श्रीमतीजीभीकमघुम्मकडनीनहींहैं, शादीसेपहलेहीइन्होंनेतोकोलकता, पुरी, दिल्ली, आगरा, मथुरा, वृन्दावन, हरिद्वार, ऋषिकेश, देहरादून, मसूरी, वैष्नोदेवी, जम्मू, शिरडीऔरअंतमेंलिस्टमेंजोनामहैवोसबकेबसकीबाततोबिल्कुलभीनहींऔरवोहैअमरनाथयात्रा, करचुकींहैं| हमारापूरीऔरभुवनेश्वरजानेकाकार्यक्रमआरक्षणनहींमिलपानेकीवजहसेजाड़ेमेंटलचुकीथी।इसीबीचमैंनेतयकरलियाकिपहलेअपनेआसपासस्थितस्थलोंकीयात्राकरूँगा, बजायलंबीयात्राके।इसकेदोफायदेथे, पहलातोअपनेआसपासकोजाननेऔरसमझनेकामौकामिलेगाऔरदूसराछोटेबच्चोंकोलेकरलंबीयात्रापरजानेमेंपरेशानीबहुतहोतीहै।बच्चेसाढ़ेपाँचसालऔरसाढ़ेतीनसालकेहैं।लंबीयात्रामेंयेऊबजातेहैंऔरफिरउधममचाकरजीनामुश्किलकरदेतेहैं, खासकरलंबीट्रेनयात्रामेंराततोकटजातीहैपरदिनमेंयेनाकोदमकरदेतेहैं।कभीएककोऊपरकीबर्थचाहियेतोकभीखिड़कीवालीसीट, बाहरकानजारादेखनेकेलिये।एकनेनाकोदमकरखिड़कीकीसीटहथियायीनहींकीअबदूसरेकाभीरोना– धोनाशुरू।कभीकोईनीचेजारहाहैतोकभीऊपर।कभीप्यासलगीतोकभीशौचालयजानाहै, एक अभीआयानहींकीदूसरेकोभीजानाहै।सबसेबड़ीदिक्कतमुझेतबमहसूसहोतीहै, जब कोईसहयात्रीबारबारघूरकरदेखनेलगतेहैं, जो मुझेबेहदअसहजकरदेताहै।जोकिएकआमसमस्यामुझेलगतीहैवातानुकूलितडब्बेमेंयात्राकरनेमें।एकतोसन्नाटाफैलारहताहै, कोईकिसीकीओरदेखतातकनहींऔरजबछोटेनटखटशैतानसन्नाटेकोतोड़तेहैंतोफिरकुछमहानुभावकोयेगवारानहींगुजरता।इनसभीबिन्दुओंपरगौरकरनेकेबादहमनेदार्जिलिंगऔरसिक्किमकीयात्रापरजानातयकरलिया।रात्रिमेंबैठेऔरसुबह–सुबह  न्यू जालपाईगुड़ीपहुँचगये| श्रीमतिजीनेपहलेहीअपनेपिताश्रीकोहमाराकार्यक्रमबतादियाऔरवोलोगभीसाथचलनेकोतैयारहोगयेथे।मतलबहमलोगदोबच्चोंऔरमेरीमाताश्रीसहितपाँचलोगथे।अबमेरेससुरजीऔरसासुसहितहमसातलोगहोगये।टिकिटऔरआनेजानेकेकार्यक्रमबनाते– बनातेश्रीमतिजीनेअपनीननद(मेरीबहनजी, लखनऊ) औरअपनीबहनजी(जोमेरीजेठसासलगेंगी, महाराष्ट्र) सेभीसाथचलनेकेलियेपूछलिया।मेरीबहनजीनेसाफ– साफनाकरदियाऔरश्रीमतीजीकीबहनजीसाथजानेकोझटसेतैयारहोगयी।लेकिनवोबिनापतिकेहीसाथचलेंगी, उनकेदोनोंबच्चेऔरमेरेबच्चेहमउम्रहीहैं।अबतीनलोगऔरबढ़गयेऔरहमलोगकुल6लोगऔर4बच्चेहोगये| लेकिन4 – […]